वेब कहानियां

Health Tips : ऐसे रखिए करवा चौथ का सेहतमंद उपवास

  •  उपवास के बाद यह जरूरी टिप्स रखेगा सेहत को सुरक्षित

नई दिल्ली। रत्नेश सिंह : करवा चौथ का उपवास सुर्योदय से पहले शुरू होकर चंद्रोदय के साथ पूर्ण होता है। इस दौरान विवाहित महिलाएं निराहार रहकर उपवास करती हैं। ऐसे में लंबे समय तक खाली पेट रहना होता है। शहरी संस्कृति में उपवास रखने की परंपरा का पालन लोग पहले की तरह नहीं करते हैं, जबकि, उपवास के अपने ही फायदे हैं।

थोडे अंतराल पर उपवास रखने से शरीर का शुद्धीकरण होता है। यह वैज्ञानिक रूप से भी प्रमाणित

Health Tips : ऐसे रखिए करवा चौथ का सेहतमंद उपवास
Health Tips : ऐसे रखिए करवा चौथ का सेहतमंद उपवास

हो चुका है। विशेषज्ञों के मुताबिक एक माह में दो बार उपवास रखने से सेहत को लाभ पहुंचता है। हम यहां आपको कुछ उपाए बता रहे हैं, जिसे अपनाकर व्रत के बाद होने वाली स्वास्थ्य संबंधित परेशानियों से बचा जा सकता है।

  •  व्रत में उपवास शुरू करने से पहले सूखे मेवे या ड्राई फ्रूट खाएं।
  • यह लंबे समय तक भूख नहीं लगने देता है। साथ ही शरीर को ऊर्जावान भी रखता है।
  •  उपवास खत्म करने के बाद पहले एक ग्लास पानी पीएं। लंबे समय तक खाली पेट रहने के बाद पानी पीना सबसे सुरक्षित उपाए है।
  •  उपवास के बाद एकदम से अधिक और भारी भोजन करने से बचें।
  •  पानी पीने के बाद कुछ अंतराल पर निम्बू पानी, नारियल पानी, मौसंबी का जूस आदि तरल पदार्थ लें।
  • यह सब पाचन के लिहाज से हल्के होते हैं और इनकी मदद से आपका पाचनतंत्र अन्न ग्रहण करने के लिए तैयार हो जाता है।
  • कुछ समय के बाद अंकुरित आहार ,कच्चा पनीर ,दही इत्यादि खाएं।
  • ज्यादा तेल-मसाले वाला आहार न लें और जितना हो सके मिठाइयों से दूरी बनाकर रखें।
  •  इसके कुछ समय के बाद रोटी और हरी सब्जी जैसे लौकी ,कद्दू ,तोरई ,भिंडी ,टमाटर की सब्जी खाएं।
  • यह पचने में आसान होता है और इससे गैस इत्यादि की समस्या भी नहीं होगी।
  • अगर उपवास के बाद थोडा-थोडा करके भोजन करें तो यह और भी बेहतर होगा।
  • उपवास के बाद थोडे-थोडे अंतराल पर पानी जरूरी पीऐं।
  • लंबे समय तक अन्न जल ग्रहण नहीं करने की वजह से शरीर में पानी की कमी हो सकती है।
  • भेाजन करने के बाद भरपूर नींद लें।
  • अगली सुबह गुनगुने पानी में नींबू मिलाकर सुबह की शुरूआत कर सकते हैं।

Read : Latest Health News|Breaking News |Autoimmune Disease News |Latest Research | on https://caasindia.in | caas india is a Multilanguage Website | You Can Select Your Language from Social Bar Menu on the Top of the Website.

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा. आवश्यक फ़ील्ड चिह्नित हैं *