वेब कहानियां

सफदरजंग अस्पताल के प्रोफ़ेसर जुगल किशोर सम्मानित

 सफदरजंग अस्पताल में शनिवार को caas india की और से एक सादे समारोह में कम्युनिटी मेडिसिन विभाग के निदेशक और एचओडी प्रोफ़ेसर जुगल किशोर को सम्मानित किया गया। उन्हें यह सम्मान ऑटोइम्यून डिसऑर्डर्स के प्रति caas india द्वारा चलाये जा रहे ऑनलाइन जागरूकता कार्यक्रम में अहम् और उपयोगी भुमका निभाने के लिए दी गई है। caas इंडिया की तरफ से रत्नेश सिंह ने उन्हें विभाग परिसर में उन्हें सम्मानित किया।


caas india की और से यूट्यूब चैनल पर देश के विभिन्न हिस्सों में मौजूद ऑटोइम्यून डिसऑर्डर के मरीजों के लिए उपयोगी वीडियो कार्यक्रम में अनेकों बार शामिल होकर प्रोफ़ेसर जुगल किशोर ने कई महत्वपूर्ण जानकारियां साझा की है। यहां बता दें कि caas india यूट्यूब चैनल पर कार्यक्रमों की अलग अलग सीरीजों के जरिये ऑटोइम्यून डिसऑर्डर्स और विशेषतौर से आंक्यलोसिंग स्पॉन्डिलाइटिस के मरीजों के लिए इंफॉर्मेटिव और रोचक जानकारियों को साझा किया जाता है। हमारे यूट्यूब पर प्रसारित होने वाले talk to experrt कार्यक्रम को व्यूअर्स ने खूब पसंद किया है। उन कार्यक्रमों को caas india youtube channel पर  टॉक टू एक्सपर्टब प्ले लिस्ट के जरिये देखा जा सकता है।

इसे भी पढ़ें : ऑटोइम्यून बीमारियों के प्रति सामाजिक अभियान जरूरी

आप भी बन सकते हैं जागरूकता कार्यक्रम का हिस्सा :

देश में ऑटोइम्यून डिसऑर्डर और ऑटोइम्यून इंफ्लामेटरी डिसऑर्डर जैसे : आंक्यलोसिंग स्पॉन्डिलाइटिस , रूमेटाइड ऑर्थराइटिस , ल्यूपस जैसी बीमारिया मानव जीवन के लिए चुनौती बन कर उभर रही है लेकिन इन बीमारियों के प्रति सामाजिक स्तर पर जागरूकता की भारी कमी है। इन बीमारियों का तो कई लोगों ने नाम तक नहीं सुना होता है। इसकी जानकारी लोगों को तब होती है जब अपने आसपड़ोस में या अपने परिवार में किसी सदस्य के ऐसी बीमारियों से पीड़ित होने की जानकारी सामने आती है।

देश का मौजूदा स्वास्थय सिस्टम भी ऐसे मरीजों को निराश करने वाला साबित हो रहा है। इन बीमारियों का उपचार बेहद महँगा है और इन्हें हेल्थ इंसोरेंस की सुविधा देने का प्रावधान नहीं है। ऑटोइम्यून रुमेटिक डिसऑर्डर से पीड़ित मरीजों का जीवन आसान कैसे हो, उन्हें सुविधाजनक रूप से उपचार मिले और स्वास्थ्य बीमा देने का रास्ता साफ़ हो, caas इंडिया इसी दिशा में लगातार प्रयास कर रहा है। caas india के जनजागरूकता कार्यक्रम में आप भी अहम् भूमिका निभा सकते हैं। इससे जुड़ने के लिए किसी भी तरह की सदस्यता शुल्क नहीं ली जाती है।

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा. आवश्यक फ़ील्ड चिह्नित हैं *